उच्च-स्तरीय इको-मिनिमिज्म: होटल साला ऑन थाई द्वीप समुई

सम ई थ ईल ड क द सर सबस बड द व प ह , यह इसक ल ए प रस द ध ह भव य सम द र तट और अद भ त प रक त । इसल ए ब ल क ल यह तर कस गत ह क ह टल व यवस य व ल और ह टल बन न क क श श कर रह ह , ज प रक त क अन र प ह । नय स ल ह टल इसस व चल त नह ह त ह म ख य ब त: सम द र, त ड क प ड और व श र म स – ल क न एक ह समय म यह द खत ह अद भ त। सफ द एक हल क प ड क स थ स य क त द त ह श त , और द र लभ र ग लहज म व द श त क य द द ल त ह । और यह सब इस तथ य क ब वज द क ह टल व यस त स द र नह ह क फ और द क न क स थ क ष त र। कमर और स र वजन क क ष त र अत भ र त नह ह फर न चर और सज वट, ल क न एक ह समय म सह क ल ए सब क छ ह मन र जन। एक आध न क सम द र तट ह टल क एक अद भ त अवत र रह !

Heather Thompson
Rate author
सुंदर अंदरूनी। ऑनलाइन पत्रिका।
Add a comment